68 वर्ष पहले गोरखपुर के 11 लोगों ने की साइकिल से हज यात्रा
68 वर्ष पहले गोरखपुर के 11 लोगों ने की साइकिल से हज यात्रा

गोरखपुर । आज से 68 वर्ष पहले गोरखपुर के 11 लोग साइकिल से हज की यात्रा पर चल पड़े थे और नौ महीने साइकिल चलते हुए सऊदी अरब पहुंचे। पूरे रास्ते तमाम दुश्वारियों का सामना होने के बावजूद इनका हौसला... continue reading.

365 मामलों को सुलझाने वाले राॅकी को सलाम
365 मामलों को सुलझाने वाले राॅकी को सलाम

राॅकी की निगाहों से नहीं बच पाते थे आतंकवादी और बम उसका नाम था राॅकी। रॉकी को महाराष्ट्र की बीड पुलिस का सबसे खास और इंटेलिजेंट कुत्ते का खिताब हासिल था। यूं तो बीड पुलिस के पास 350 कुत्ते हैं... continue reading.

इसे सिर्फ दो गज़ ज़मीं की दरकार थी…
इसे सिर्फ दो गज़ ज़मीं की दरकार थी…

एक बार एक बेहद ग़रीब आदमी एक राजा के पास गया औऱ उनसे फ़रियाद की…उसके पास कुछ भी नहीं, उसे मदद चाहिए..? राजा दयालु था…उसने पूछा कि “क्या मदद चाहिए..?” आदमी ने कहा…”थोड़ा-सा भूखंड..! राजा ने कहा, “कल सुबह सूर्योदय... continue reading.

हम जो मांग रहे हैं, वह क्षुद्र है…
हम जो मांग रहे हैं, वह क्षुद्र है…

एक बहुत धनवान महिला नें एक गरीब चित्रकार से अपना चित्र बनवाया, पोट्रेट बनवाया। चित्र बन गया, तो वह अमीर महिला अपना चित्र लेने आयी। वह बहुत खुश थी। चित्रकार से उसने कहा, कि क्या उसका पुरस्कार दूं? चित्रकार गरीब... continue reading.

जीसैट-1 (EOS-03) की लॉन्चिंग की तैयारी
जीसैट-1 (EOS-03) की लॉन्चिंग की तैयारी

15 अगस्त से ठीक पहले कल सुबह 5:45 पर भारत का जेम्स बांड कहे जाने वाले जीसैट-1 (EOS-03) की लॉन्चिंग की तैयारी इसरो द्वारा पूरी कर ली गई है….! अपनी श्रंखला में ये भारत का सबसे ताकतवर सैटेलाइट होगा, जो... continue reading.

ज़िंदगी का कोई भरोसा नहीं…
ज़िंदगी का कोई भरोसा नहीं…

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के लिए 15 साल क्रिकेट खेलने वाले दुनिया के बेहतरीन ऑलराउंडर रहे क्रिस केर्न्स को आज लाइफ़ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है, उनकी हालत नाज़ुक बताई जा रही है, हार्ट की किसी गम्भीर समस्या का शिकार... continue reading.

इस तरह स्थापित होती है महानता मानवता
इस तरह स्थापित होती है महानता मानवता

केनिया के सुप्रसिद्ध धावक अबेल मुताई आलंपिक प्रतियोगिता में अंतिम राउंड मे दौड़ते वक्त अंतिम लाइन से एक मीटर ही दूर थे और उनके सभी प्रतिस्पर्धी पीछे थे। अबेल ने स्वर्ण पदक लगभग जीत ही लिया था, इतने में कुछ... continue reading.

देश की न्यायपालिका के कार्य
देश की न्यायपालिका के कार्य

“1961 में मेरे पिताजी PWD में चतुर्थ श्रेणी के तकनीकी पद पर नोहर (राजस्थान) में पोस्टेड थे। उस समय तक मेरा जन्म नहीं हुआ था। एक दिन उनके अधिशासी अभियंता ने उनको कहा कि कल सालासर टूर पर चलना है,... continue reading.

मुफ्त की कीमत चुकानी पड़ती है…
मुफ्त की कीमत चुकानी पड़ती है…

जब कोई चीज मुफ्त मिल रही हो, तो समझ लेना कि आपको इसकी कोई बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। नोबेल विजेता डेसमंड टुटू ने एक बार कहा था कि जब मिशनरी अफ्रीका आए तो उनके पास बाईबल थी और हमारे पास... continue reading.

साईकिल का आविष्कार कब हुआ…
साईकिल का आविष्कार कब हुआ…

पहली साईकिल 1817 में आविष्कार की गई। लेकिन अगर आप २००० साल पुराने पंचवर्णस्वामी मंदिर, तमिलनाडु में जाते हैं, तो एक नक्काशी है जो दिखाती है कि भारतीय पूर्वजों को पहले से इसकी डिजाइन के बारे में पता था व... continue reading.